पावटा (डीडवाना, नागौर)

इतिहास :-

 पावटा गांव नागौर जिले के डीडवाना तहसील में डीडवाना से करीब 12 किलोमीटर दूर  किशनगढ़_ हनुमानगढ़ मेघा हाईवे पर है।

 गांव में धन्नावंशीयो  के 11 परिवार है यह सभी परिवार भामू गोत्र के हैं पावटा गांव के भामूओ के पूर्वज पहले काशी का बास गांव – {सीकर के पास} मैं रहते थे वहाँ  से  गांव- पायली आकर रहने लगे, पायली में श्री अमर दास जी के 6 पुत्र थे जिनमें से श्री भागीरथ दास जी पावटा आकर बस गए, श्री भागीरथ दास जी ने  गांव पावटा में श्री ठाकुर जी महाराज के भव्य मंदिर का निर्माण करवाया, पावटा  में भामूओ के कुल 11 परिवार निवास करते हैं  इन 11 परिवारों कुल सदस्यों  की संख्या लगभग 75 हैं पावटा में ठाकुर जी के मंदिर का निर्माण श्री भागीरथ दास जी ने करवाया था तत्पश्चात भामू परिवार ने मिलकर ठाकुर जी के मंदिर का जीर्णोद्धार करवाया, पावटा ठाकुर जी का मंदिर किसी सार्वजनिक भूमि नहीं बना हुआ है यह मंदिर भामूओ की स्वयं की गूवाड़ी में बना हुआ है,  मंदिर में प्रतिदिन पूजा पाठ स्वर्गीय श्री रामसुखदास जी भामू  के परिवार के सदस्यों द्वारा  की जा रही है ! 

 

संपर्क सूत्र :-

01-श्री सीताराम जी स्वामी – मो-नं- 94137-18301

02- श्री हनुताराम जी स्वामी - मो-नं- 99838-48729

03- श्री पूरणमल जी स्वामी – मो- नं- 96109-84973

04- श्री मोहनलाल जी स्वामी   मो- नं- 94137-56001

05- श्री परसा राम जी  स्वामी   मो- नं- 99827-29219

06- श्री रामेश्वर लाल जी स्वामी 

07-श्री ताराचंद जी स्वामी 

 08-श्री नेमीचंद जी स्वामी

 

 नौकरीपेशा व व्यक्तिगत परिचय :-

पावटा के अधिकांश धन्नावंशी  सरकारी व प्राइवेट नौकरी व स्वयं के व्यवसाय के साथ-साथ खेती बाड़ी का काम करते हैं  यहां के धन्नावंशीयो  के पास डोली भूमि के साथ-साथ स्वयं की भूमि भी है जिस पर वो खेती-बाड़ी का कार्य करते हैं पावटा गांव के धन्नावंशी परिवारों का व्यक्तिगत परिचय इस प्रकार है 

  1.  श्री सीताराम जी स्वामी - सेवानिवृत्त प्रधानाचार्य शिक्षा विभाग - इनके पुत्र (a) श्री भंवरलाल जी स्वामी - अपने स्वयं का व्यवसाय जोधपुर में -  तथा भंवरलाल जी स्वामी का  पुत्र - रामरतन स्वामी - सहायक अभियंता अजमेर विद्युत वितरण निगम लिमिटेड डीडवाना - तथा भंवर लाल जी का  पुत्र पवन स्वामी  अपने पिताजी के साथ जोधपुर स्वयं के व्यवसाय में कार्यरत है

 

         श्री सीतारामजी का पुत्र श्री द्वारका प्रसाद स्वामी -वरिष्ठ अध्यापक शिक्षा विभाग - इनकी पत्नी श्रीमती इंदिरा देवी - अध्यापिका शिक्षा विभाग - द्वारका प्रसाद जी का पुत्र राजगोपाल स्वामी - जूनियर केमिस्ट सूरतगढ़ थर्मल पावर प्लांट

 

       श्री सीतारामजी का पुत्र श्री रघुनाथ प्रसाद स्वामी - अपना स्वयं का क्लीनिक

 

2. श्री हनुताराम जी स्वामी - सेवानिवृत्त जलदाय विभाग डीडवाना नागौर - इनके पुत्र

- श्री हरिप्रसाद स्वामी - अपने स्वयं का व्यवसाय जोधपुर में   

 - श्री हनुताराम जी स्वामी का  पुत्र श्री बंशीलाल  स्वामी - अपने स्वयं का व्यवसाय पावटा में  

 - श्री हनुताराम जी स्वामी का  पुत्र श्री रामनारायण स्वामी -  अपने स्वयं का व्यवसाय जोधपुर में

- श्री हनुताराम जी स्वामी का  पुत्र श्री शंकरलाल स्वामी - प्राइवेट स्कूल में अध्यापक  

 - श्री हनुताराम जी स्वामी का पुत्र भवानी शंकर - मार्केटिंग मैनेजर जयपुर 

 

3. श्री पूरणमल जी स्वामी - सेवानिवृत्त भारतीय सेना 

इनका पुत्र 

- श्री ओमप्रकाश स्वामी - सब इंस्पेक्टर  सीआरपीफ

   इनकी  पत्नी श्रीमती सुमन स्वामी आशा सहयोगिनी -पावटा में कार्यरत है

4. श्री मोहनलाल जी स्वामी - सेवानिवृत्त अकाउंटेंट  महाराजा श्री उम्मेद मिल  

         लिमिटेड- पाली 

           इनके पुत्र (a) श्री छगन स्वामी - मैनेजर अकाउंट एंड फाइनेंस, पाली         

         इनकी पत्नी श्रीमती सुमन स्वामी - अध्यापिका शिक्षा विभाग ,पाली

         (b) श्री सोहन स्वामी -प्रोडक्शन मैनेजर इन एक्सपोर्ट प्रोसेस हाउस-   जोधपुर

 

5.    श्री परसा रामजी जी स्वामी - सेवानिवृत्त भारतीय सेना 

          इनका पुत्र

         -दुर्गेश स्वामी - भारतीय सेना में कार्यरत 

          -पुत्र नितेश  स्वामी- अपना स्वयं का व्यवसाय पावटा  में 

 6.  श्री रामेश्वर लाल जी स्वामी -  गांव में खेती बाड़ी का कार्य 

7.  श्री नेमीचंद जी स्वामी -भारतीय जीवन बीमा निगम में विकास अधिकारी 

      अहमदाबाद में 

8. श्री अशोक कुमार स्वामी - उप प्रबंधक एसबीआई बैंक डीडवाना 

9.  श्री ताराचंद स्वामी - अपना स्वयं का व्यवसाय  पावटा में